आरके सिन्हा ने संसद में युवाओं के रोजगार डेटा को लेकर उठाया सवाल। मंत्री ने की सिन्हा की वाजिब चिंता की सराहना

पटना ( द न्यूज़)। बिहार के विकास के लिए हमेशा तत्पर रहने वाले भाजपा के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा ने युवाओं के रोजगार संबंधित दोषपूर्ण डेटा में सुधार के लिए संसद का ध्यान आकृष्ट किया है। उन्होंने राज्य सभा में रोजगार से संबंधित डाटा कलेक्शन की गुणवत्ता पर सवाल उठाते हुए सरकार को आवश्यक सलाह भी दी। एक पूरक प्रश्न में श्री सिन्हा ने श्रम और रोजगार मंत्री संतोष गंगवार से कहा कि बेरोजगारी के संबंध में डेटा कलेक्ट करने का अभी जो सिस्टम्स है, वह बहुत ही दोषपूर्ण है और उसमें स्वरोजगार से उत्पन्न रोजगार नहीं आता , इसमें असंगिठत क्षेत्र का रोजगार नहीं आता।जवाब में श्री गंगवार ने कहा कि माननीय सदस्य इस विषय के अच्छे जानकार हैं और वे भी रोज़गार के अवसर कैसे मिलते हैं उसकी चिंता में रहते हैं। हमारा माननीय सदस्य से व्यक्तिगत संपर्क होता रहता है। इसीलिये हमने सर्वे  को लेकर बदलाव किया है कि अब हम एक सही विश्वसनीय सर्वे के आधार पर जानकारी देने का काम करना चाहते हैं। इसिलए जो पुराना सर्वे है, जिसकी रिपोर्ट  वर्ष 2016-17 तक आयी थी, उसे रोका गया है। अब हम लोग नया सर्वे सांख्यिकी मंत्रालय  के माध्यम से ला रहे हैं जो और गहराई में जाकर ग्रामीण क्षेत्र में जाकर सर्वे कर रहा है।चूंकि सर्वे आने में समय लगता है, हम तुरंत एक रिपोर्ट नहीं दे सकते हैं। मुझे लगता है कि जो कमियाँ हैं, उनमें हम बदलाव करने का भी काम कर रहे हैं और सदस्यों को सही रिपोर्ट मिले, यह हमारी रूचि है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.